एमपी बोर्ड: 10वीं के रिजल्ट में एक बार फिर छात्राओं ने मारी बाजी, टुटा पिछले साल का रिकॉर्ड

118

भोपाल: शनिवार दोपहर को एमपी बोर्ड का 10वीं का नतीजा जारी कर दिया गया है. इसमें 62.84% स्टूडेंट्स पास हुए है. ये पिछले साल के रिजल्ट 61.32% से करीब 1% ज्यादा रहा है. आपको बता दें की इस बार फिर से छात्राओं ने बाजी मारी है. एक बार फिर बेटियों ने साबित किया है की वह अपनी मेहनत और लग्न से सफलता की बुंलदियों को छू सकती है. इनमें 65.97% छात्राएं और 60.09% छात्र पास हुए है. 15 छात्रों ने पहला स्थान हासिल किया है. इन सभी ने पूरे 300 में से 300 अंक हासिल किए हैं. इसमें 3 छात्र गुना के हैं. तो एक छात्रा कर्णिका मनोज मिश्रा भोपाल की है.  

मध्य प्रदेश बोर्ड ने 4 सरकारी वेबसाइट और इसके अलावा मोबाइल फोन पर दो ऐप में यह रिजल्ट अपलोड किया है. इस बार 10वीं की परीक्षा में 11 लाख से अधिक छात्र-छात्राएं शामिल हुए है. हालांकि कोरोना वायरस के कारण 10वीं का नतीजा पहले घोषित कर दिया गया है. 30 साल में पहली बार 10वीं और 12वीं के रिजल्ट अलग-अलग घोषित किए जा रहे हैं और कोई कार्यक्रम भी नहीं होगा. ये सब  कोरोना महामारी को देखते हुए किया जा रहा है.

बता दें की लॉकडाउन के वजह से परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई थी. इसमें 20 मार्च से 31 मार्च तक होने वाली सभी परीक्षा शामिल थीं. 1 से 11 अप्रैल तक चलने वाली दृष्टिहीन मूकबधिर छात्रों की परीक्षाएं भी रद्द हो गई थी. वहीं जुलाई के तीसरे हफ्ते में 12वीं का भी रिजल्ट आने वाला है.