Dekho Bhopal News

हर ऑफिस में हर तरह के लोग होते है, इनमें से कुछ हर तरह से मदद करने के लिए तैयार होते है. लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं, जो आपका अपमान करना, शर्मिंदगी महसूस कराना या आपके कार्य क्षमता को दबाने की कोश‍िश करते हैं. ऑफिस के ऐेसे लोगों से कैसे निपटें जानिये…

ऑफिस में काम के अलावा खुद को साबित करने की चुनौती भी होती है. न केवल काम के नजरिये से बल्कि अपने सहकर्मियों के साथ आपका कैसा रिश्ता है और आप उनके साथ किस तरह तालमेल बिठाते हैं, आपकी सफलता काफी हद तक इस बात पर भी निर्भर करती है. पर ऑफिस में कुछ लोग ऐसे भी होंगे, जो लगातार आपकी खामियों को गिनाते रहेंगे और उनकी पुरजोर कोश‍ि‍श यही होगी कि आप अपना प्रोजेक्ट किसी भी हाल में पूरा न कर सकें और सीनियर्स व बॉस की नजर में आपकी नकारात्मक छवी बन जाए. ऐसे में ऑफिस के इन सहकर्मियों को डील करने में यहां दिए गए कुछ टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं…

  1. लोगों के बर्ताव को समझने की कोशिश करें

आप ऑफिस में लोगों को समझने की कोशिश करें. आपके ऑफिस में सबसे अच्छी दोस्ती हो ये जरूरी नहीं है, पर इसका मतलब ये नही कि आपको कोई नीचा दिखाने की कोशिश करेगा. सामने वाले का बर्ताव समझें और जानें क्या वह इंसान जानबुझ कर सता रहा है? अगर ऐसा है तो उनसे दूरी बना कर रखें.

  1. भूल जाएं कि कोई आप पर धौस जमा रहा है

जब आप कॉन्फिडेंट हैं तो आपको किसी से डरने की जरूरत नहीं है. आप अपना काम बखूबी जानते हैं और उसे करने का तरीका भी मालूम है. एक चीज याद रखें, अगर ऑफिस में आपको हर समय दबाया जाता है, या दादागरी दिखाई जाती है तो सिर्फ आप अपने काम से उन सबका मुंह बंद कर सकते हैं. ऑफिस की दादागरी को रोकने के लिए तरकीब बनाइये और ऑफिस में अपनी नई जगह बनाइए.

  1. अपने खिलाफ गलत न सुनें

ये कहना जितना आसान है, उसे करना उतना ही मुश्किल. जब बिना मतलब के आपके बारे में गलत कहा जा रहा है तो उसे कतई न सुनें. अगर वह आपके सीनियर हैं, तो उनके सामने विनम्रता से पेश आएं. आप उन्हें बोल सकते हैं, कृपया बस कीजिये , मुझे काम करने दे, ‘मत बोलिए प्लीज़’. याद रखें गुस्से में भी चिल्लाकर या गाली देकर बात न करें. इससे बात बिगड़ सकती है और आप मुश्किल में पड़ सकते है. शांत और सुलझे हुए स्वर में उस इंसान को ये सब रोकने को बोलिए.

  1. बुरे बर्ताव को डायरी में करें नोट

किस दिन किस बात पर आपके साथ गलत बर्ताव हुआ, सबका लेखा-जोखा एक डायरी में दर्ज करें. घटना की तारिख, समय, जगह और गवाह के नाम (अगर कोई उस वक्त आपके साथ था ) जब आप अपने सुपरवाइजर को या अपने वकील और कानूनी टीम को गलत बर्ताव के बारे में जानकारी देगे तब ये रिपोर्ट बहुत काम आएंगी.

  1. शान्त रहें और प्रतीक्षा करें

आप किसी भी तरह से गलत नहीं है और आपके पास पुख्ता सबूत है उसे अपने पास रखें. साथ ही अपना बिहेववियर शांत और प्रोफेशनल रखें. याद रखें बॉस के पास इमोशनल और भावुक होकर शिकायत लेकर न जाएं. आपका बॉस सोच सकता है कि आप राई का पहाड़ बना रहे हो जिससे समस्याएं पैदा हो सकती है. आप शांत रह कर अपने विचार अच्छे से अपने बॉस को बता सकते हो और अपना पक्ष मजबूत बना सकते है. ऐसा करने से हो सकता है कि आपके ऑफिस में आपके लिए एक बेहतर जगह बन जाए.