Dekho Bhopal News

कानपुर: चार दिन पूर्व ही कानपुर ज़ू में मृत पाई गई जंगली मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के पश्चात् अब प्रशासन हाई अलर्ट पर है। ज़ू के सभी बाड़ों में उपस्थित पक्षियों को रविवार शाम तक मारने के निर्देश दिए गए हैं। साथ-साथ ज़ू से एक किमी तक के क्षेत्र को कन्टेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया हैं। इतना ही नहीं 10 किलोमीटर के दायरे में मांस की बिक्री पर रोक भी लगा दी गई है।

आपको बता दें कि बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के पश्चात् 15 दिनों के लिए ज़ू को बंद किया गया था। किन्तु अब अनिश्चितकाल के लिए जू को बंद किया गया है। किसी को भी ज़ू में एंट्री नहीं दी जाएगी। फ़िलहाल ज़ू में हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम उपस्थित है तथा पक्षियों को मारने की तैयारी की जा रही है। जानकारी के अनुसार, पहले मुर्गियों तथा तोतों को मारा जाएगा। उसके पश्चात् बत्तख एवं अन्य पक्षियों को मारने की तैयारी है। ज़ू के अफसरों के अनुसार, यह दुखद है किन्तु प्रोटोकॉल के तहत यह करना ही होगा। आज शाम तक सभी पक्षियों को मारने के आदेश दिए गए हैं।

बता दें कि 4 दिन पूर्व कानपुर ज़ू में चार जंगली मुर्गियों तथा चार हीरामन तोतों की मृत्यु हो गई थी। यह सभी पिंजरे में बंद पक्षी थे। इन्हीं में से मृत मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इसके अतिरिक्त सोनभद्र, बाराबंकी, अयोध्या तथा झांसी में कौवे मृत पाए गए थे। इनका सैंपल टेस्ट के लिए भोपाल भेजा गया है। इसकी रिपोर्ट आने में एक-दो दिन का वक़्त लग सकता है। जिस प्रकार से राज्य दर राज्य बर्ड फ्लू अपने पैर फैला रहा है, उसे देखते हुए पहले ही उत्तर प्रदेश सरकार ने बचाव के दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं।