दीपिका उन लोगों के साथ खड़ी हुईं, जो हर सीआरपीएफ जवान की मौत पर जश्न मनाते हैं – स्मृति ईरानी

118

नई दिल्ली/बेंगलुरु. एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण की मंगलवार रात जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में छात्रों से मुलाकात पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की। बेंगलुरु में एक कार्यक्रम के दौरान स्मृति ने कहा कि दीपिका जेएनयू में उन लोगों के साथ खड़ी हुईं, जो हर सीआरपीएफ जवान की मौत पर जश्न मनाते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि दीपिका ने 2011 में ही जाहिर कर दिया था कि वे कांग्रेस की समर्थक हैं।

दरअसल, अपनी नई फिल्म छपाक (Chhapaak) की रिलीज़ से दो दिन पहले दीपिका जेएनयू पहुंचीं थीं, जिस समय वह जेएनयू पहुंचीं थीं, उस वक्त कन्हैया कुमार भाषण दे रहे थे। दीपिका जेएनयू कैंपस में 10 मिनट तक छात्रों के साथ रहीं। हालांकि, उन्होंने छात्रों को संबोधित नहीं किया।

महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा- दीपिका ने अपनी राजनीतिक पसंद 2011 में ही जाहिर कर दी थी कि वे कांग्रेस का समर्थन करती हैं। जिसने भी यह खबर पढ़ी होगी, वह जानता होगा कि दीपिका किसके साथ खड़ी होंगी। मैं निश्चित तौर पर उनके राजनीतिक जुड़ाव के बारे में जानना चाहूंगी। मैं उनके इस अधिकार से इनकार नहीं करती कि वे उन लोगों के साथ खड़ी हो सकती हैं जो दूसरी लड़कियों को पीटती हैं। क्या यही उनकी स्वतंत्रता है? भारत तेरे टुकड़े है कहनों वालों के साथ खड़ा होना ही उनका अधिकार है।

स्मृति ने दीपिका के एक पुराने इंटरव्यू का जिक्र किया था, जिसे सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था और दीपिका इसमें राहुल गांधी का प्रधानमंत्री के तौर पर समर्थन कर रही थीं।

भाजपा नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने दीपिका के जेएनयू दौरे पर ऐतराज जाहिर किया था। उन्होंने कहा था कि दीपिका की फिल्म छपाक का बायकॉट किया जाए। हालांकि, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस बयान से किनारा कर लिया था। उन्होंने कहा था कि केवल कलाकार ही क्यों, किसी भी व्यक्ति को कहीं भी जाने और अपनी राय जाहिर करने का अधिकार है।